Breaking news Latest News छत्तीसगढ़

नान घोटला मामला : IPS रजनेश सिंह पहुंचे EOW के ऑफिस….फोन टेपिंग समेत कई मामलों में होगी पूछताछ, EOW ने भेजा था नोटिस

नान घोटाला मामले में निलंबित आईपीएस रजनेश सिंह ईओडब्ल्यू ऑफिस पहुंचे है | फोन टेपिंग से जुड़े कई मामलों की पूछताछ करने के लिए ईओडब्ल्यू ने रजनेश सिंह को नोटिस दिया था | जिसका जवाब देने के लिए वे ईओडब्ल्यू पहुंचे हुए है | बताया जा रहा है कि ईओडब्ल्यू निलंबित आईपीएस रजनेश सिंह से घोटाले से जुड़े कई विषयों पर पूछताछ करेगी |

बता दें कि हाईकोर्ट ने चर्चित नान घोटाला मामले में आरोपी आईपीएस रजनेश सिंह की गिरफ़्तारी पर रोक लगा दिया था | इसके साथ ही कोर्ट रजनेश सिंह को इस मामले में जाँच में सहयोग देने को कहा था | वही ईओडब्ल्यू ने इस मामले की महत्वपूर्ण कड़ी रहे रजनेश सिंह को पूछताछ के लिए नोटिस भेजा गया था | जिसके बाद निलंबित आईपीएस आज जवाब देने के लिए ईओडब्ल्यू के ऑफिस पहुंचे है |

बता दें कि ईओडब्ल्यू ने नान घोटाले मामले में गलत तरीके से जांच के साथ अवैध फोन टेपिंग सहित कई अपराध दर्ज करते हुए डीजी मुकेश गुप्ता और एसपी रजनेश सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया था | जिसके बाद राज्य सरकार ने शुक्रवार को आदेश जारी कर आज शनिवार को मुकेश गुप्ता और रजनेश सिंह को निलंबित कर दिया गया है |

रायपुर।

फोन टैपिंग मामले के आरोपी निलंबित आईपीएस रजनेश सिंह आज ईओडब्ल्यू के दफ़्तर पहुँचे. ईओडब्ल्यू ने उन्हें पूछताछ के लिए नोटिस भेजा था. निर्धारित समय के मुताबिक रजनेश सिंह को सूबह साढ़े 11 बजे ईओडब्ल्यू पहुँचना था लेकिन वे 20 मिनट की देरी से 11.50 बजे पहुँचे. जामूनी रंग की शर्ट पहने, एक हाथ में फाइल और एक हाथ थैला लिए, सर नीचे किए उन्होंने अकेले ही कार्यालय के भीतर प्रवेश किया.इस दौरान रजनेश सिंह के चेहरे के भाव बता रहे थे कि वे बेहद परेशान हैं और वे इस मुसीबत से जल्द से जल्द निकलना चाहते हैं. रजनेश सिंह पर नान घोटाला और फोन टैपिंग मामले में निलंबित डीजी मुकेश गुप्ता के साथ मिलकर साजिश रचने के आरोप हैं. इस मामले में आज उन्हें एसआईटी ने पूछताछ के लिए बुलाया है. रजनेश सिंह के खिलाफ इन दोनों ही मामले में एफआईआर दर्ज है. हालांकि हाईकोर्ट ने रजनेश सिंह की गिरफ़्तारी पर फौरी तौर पर रोक लगा दी है. हाईकोर्ट से राहत मिलने के बाद रनजेश सिंह ईओडब्ल्यू के समक्ष आज हाज़िर हुए हैं.