Breaking news Latest News छत्तीसगढ़

वर्षों बाद मरमा पुलिस चौकी पहुंचा कोई आइजी, सुनी समस्या

वर्षों बाद मरमा पुलिस चौकी पहुंचा कोई आइजी, सुनी समस्या

2TI और 3 SDOP को शो कॉज नोटिस जारी.. मर्ग प्रकरणों में लापरवाही पर भड़के पुलिस महानिरीक्षक

rajan singh chauhan/

अंबिकापुर। सरगुजा रेंज के पुलिस महानिरीक्षक रतनलाल डांगी ने रविवार को बलरामपुर जिले के सीमावर्ती थानों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान थानों में उपलब्ध सुविधाओं, संसाधनों व प्रकरणों की जानकारी लेते हुए पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को पूरी ईमानदारी के साथ दायित्वों का निर्वहन करने निर्देशित किया। झारखंड सरहद से लगे सीमावर्ती क्षेत्रों में भी आईजी पहुंचे और कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा की।

सरगुजा रेंज के पुलिस महानिरीक्षक का पदभार ग्रहण करने के बाद आइजी रतनलाल डांगी लगातार रेंज की भौगोलिक परिस्थितियों से वाकिफ होने के साथ थानों का औचक निरीक्षण कर रहे हैं। सबसे पहले सूरजपुर जिले के थानों का निरीक्षण और पुलिस अधिकारियों की बैठक लेने के बाद वे कोरिया जिले पहुंचे थे। कोरिया जिले के थानों का निरीक्षण करने के बाद आइजी रतनलाल डांगी शनिवार को सीधे बलरामपुर पहुंच गए। रविवार सुबह बलरामपुर थाने का निरीक्षण करने के बाद वे झारखंड सीमा से लगे रामानुजगंज थाने पहुंचे। रामानुजगंज थाने के कामकाज की समीक्षा की। लंबित अपराध, शिकायतों के निराकरण के लिए पुलिस अधिकारियों को मार्गदर्शन दिया। यहां से वे झारखंड के सीमावर्ती रामचंद्रपुर, त्रिकुंडा, सनावल थाने का निरीक्षण करते हुए मरमा पुलिस चौकी भी पहुंचे। एक दौर में यह इलाका नक्सली गतिविधि के लिए जाना जाता था, लेकिन अब परिस्थितियां पूरी तरीके से बदल चुकी हैं।

बलरामपुर जिले के मरमा चौकी में एक बार नक्सलियों ने हमला भी किया था, लेकिन चौकी में पदस्थ पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों ने नक्सलियों का मुंहतोड़ जवाब भी दिया था। वर्षों बाद कोई आइजी मरमा पुलिस चौकी पहुंचा। आइजी को अपने बीच पाकर यहां पदस्थ पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों में भी उत्साह देखा गया। आइजी ने सभी स्थानों पर पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की औपचारिक बैठक भी ली और बेहतर पुलिसिंग के लिए मार्गदर्शन भी दिया। देर शाम वे वाड्रफनगर पुलिस चौकी के निरीक्षण पर पहुंचे। सभी स्थानों पर आइजी ने पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की समस्या भी सुनी। बेहतर वातावरण में बेहतर तरीके से कार्य करने के लिए प्रेरित किया।